लौकडाउन के दो माह बाद भी हर्षल फाउंडेशन का राहत अभियान जारी/ प्रेमनगर मे निम्न मध्यम वर्ग के स्कूल बस चालकों के परिवारों को बांटा राशन

उत्तरप्रदेश उत्तराखण्ड

देहरादून -कोरोना महामारी के चलते लौकडाउन को दो माह से अधिक हो चुका है। देहरादून में संकटग्रस्त लोगों को मदद पहुंचाने वाले अधिकांश स्वयं सेवी संगठन भी धीरे धीरे खामोश हो चले हैं लेकिन सुश्री रमा गोयल के नेतृत्व वाली संस्था “हर्षल फाउंडेशन” पूर्व की भांति आज भी पूरी मुस्तैदी से संकटग्रस्त नागरिकों को सहायता पहुचाने मे जुटी है।

सुश्री रमा गोयल ने बताया कि निम्न मध्यमवर्ग के लोग ज्यादा मुश्किल मे है। उनका काम धंधा अभी शुरू नही हुआ है और वह सहायता मांगने कही जा भी नही सकते है। हर्षल फाउंडेशन की यह कोशिश रही है कि ऐसे परिवारों को भी सहायता दी जाए।
इसी कड़ी में आज प्रेमनगर मे 25 स्कूल बस ड्राइवरो के परिवारों के लिए राशन उपलब्ध कराया गया। यह ड्राइवर स्कूल बंद होने से बेरोजगार हो गए है और इनकी बसों के मालिकों ने इनकी सहायता करने से भी इंकार कर दिया है।ऐसी हालत मे हमारा यह तुच्छ प्रयास है। आज के सेवाकार्य मे हिमांशु पुंडीर जी का काफी योगदान रहा। जो स्वयं एक समाजसेवी है और सदैव सहायता के लिए तत्पर रहते है।
इसके पहले ऐसे ही परिवारों के बच्चों के लिए कापियां पेंसिल आदि की व्यवस्था भी की गई थी।सबसे पहले जिन्होंने मास्क नही लगाए हुए थे, उन्हें मास्क दिए गए। आज रमा गोयल, हिमांशु पुंडीर, दीप्ति, प्रभा देवी, डॉ गोयल एवम शीश पाल सिंह ठाकुर आदि लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *